सत्तू की लिट्टी/बाटी

बाटी भारतीय राज्य बिहार से उत्पन्न एक पूर्ण भोजन है। यह झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी लोकप्रिय है। यह एक आटे की गेंद होती है जो पूरे गेहूं के आटे से बनी होती है और इसमें बेसन, दालें और जड़ी-बूटियों और मसालों से बनता है| इसे दही, बेगन भर्ता, एलु भर्ता, और पापड़ के साथ खाया जा सकता है। बाटी को पारंपरिक रूप से लकड़ी की आग पर पकाया जाता है, लेकिन आधुनिक दिनों में एक नया तला हुआ संस्करण विकसित किया गया है।

  • तैयारी में लगा समय-15 मिनट
  • बनाने में लगा समय-30 मिनट
  • लोगों के लिए -4 से 5

आवश्यक सामग्री

सत्तू के मिश्रण की तैयारी

  • बारीक कटा हुआ धनिया की पत्ती
  • 200 ग्राम या 7बड़ा चम्मच
  • मीडियम 3 साइज प्याज
  • 3 हरी मिर्च
  • 8 या 10 लहसुन की कलियां
  • 1 इंच बारीक कटा हुआ अदरक( इसे हम चिल्ली कट्टर या फिर हाथ से ही बारी काट लेंगे )
  • 1/2आधा इंच अजवाइन
  • आम का अचार या मिर्च का अचार
  • स्वादानुसार नमक

आटा के लिए सामग्री

  • चार कटोरी आटा
  • एक बड़ा चम्मच तेल
  • आधा चम्मच मंगरैल (कलौंजी)
  • हल्का गर्म कुनकुना पानी

बनाने की विधि

सत्तू का मिश्रण बनाने की विधि


चार कटोरी सत्तू लेंगे 4 मीडियम साइज की प्याज, 8 या 10 लहसुन के टुकड़े ,1 इंच अदरक बारीक कटे हुए ,आधा चम्मच अजवाइन मिला लेंगे हरी मिर्च लेंगे तीन या चार लेंगे उसे भी बारीक काटकर मिलाएंगे और उसमें एक चम्मच आम का अचार का मसाला तेल डालेंगे या लाल मिर्च का अचार डालेंगे( यदि आपके पास आचार ना हो तो आप आमचूर और नींबू के रस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं) इन सभी चीजों को डाल कर अच्छे से हाथों से मिलाएंगे फिर हम स्वादानुसार नमक डाल देंगे और उसे भी अच्छे से मिश्रण में मिलेंगे अब हमारा सत्तू का मिश्रण तैयार है उसे हम 15 से 20 मिनट तक साइड में रख देंगे|

आटा को तैयार करने के लिए

ऊपर दिए सारी सामग्री को हम मिलाकर आटा को अपने हाथों से धीरे-धीरे गर्म पानी से हल्का सा कड़ा गूंथ लेंगे और वह सेट हो जाए इसलिए उसको आधा घंटे के लिए रख देंगे|
एक कढ़ाई में हम पानी को उबालने के लिए रख देंगे और उसमें एक बड़ा चम्मच रिफाइंड ऑयल डाल देंगे और पानी को उबलने देंग जब तक पानी उबल रहा है तब तक हम यहां अपने बाटी को तैयार करेंगे|
बाटी को तैयार करने के लिए हम अपना गूंथा हुआ आटा का पेड़ा बना लेंगे और एक पेड़ा को लेकर उसको हल्के हाथों से गोलाकार देंगे वह कटोरी का एक आकार देंगे और उस में दो चम्मच अपना बनाया हुआ सत्तू का मिश्रण डालेंगे और उसे हल्के हाथों से गोलाकार दे देंगे ऐसे ही करके हम अपने सारी बाटी बना लेंगे और उसको उबलते हुए गर्म पानी में डाल देंगे एक उबाल तक सारी बाटियों को पका लेंगे और उबले हुए बाटियों को एक प्लेट में निकाल लेंगे|
हम गैस पर एक और कढ़ाई रखेंगे और उसमें 5 बड़े चम्मच रिफाइंड ऑयल डालकर उसे गर्म होने देंगे और ऑयल गरम होते ही इनमें हम अपने उबले हुए बाटी डालेंगे और उसे सुनहरा होने तक तलएंगे 2 मिनट तक हम उसे पकआएंगे फिर हम उसको पलट के दूसरी तरफ सुनहरा होने तक पकाएंगे इसी तरह हम सारी बा बाटियों को तल लेंगे और एक प्लेट में निकाल लेंगे
हमारे गरमा गरम बाटिया एकदम तैयार हैं इससे हम चाय या फिर बैंगन के भरते के साथ सर्व करेंगे इसका स्वाद और भी बढ़ जाएगा

Leave a Comment